Let's Talk Forum


रिश्ते

जिसके द्वारा दर्ज किया गया abhi261092

आँटी जी मैने एक लड़की से परिचय हुआ शुरू में बात धीरे धीरे आगे बढ़ने लगी पर मेरे अंदर कोई फिलिंग उस समय नही थी कि बार उसको बाइक से मार्किट भी ले गया फिर अचानक मार्च से मुझे वो पसंद आने लगी लोकडौन में मैंने उससे चैट चालू किया हर बात पर रिप्लाय आता था बात यहाँ तक पहुंच गया कि मुझे लगता था कि बस I Love बोल दे तो एक्सेप्ट कर लेगी दिन भर उसी के ऑनलाइन आने का ििइंतजार करता था फिर मैंने अपने आप पे कंट्रोल करना चालू किया क्योंकि वो मेरे कास्ट की नही थी और Up में हम मिडिल क्लास में ये ज्यादा मायने रखता है इसलिए मैंने पूर्ण रूप से भुलाने की कोशिश करने लगा जो मेरे लिए मुश्किल था उसको मैसेज करना बन्द कर दिया कभी कभी बात करता था फिर मई से मेरा ऑफिस खुल गया तो दिन भर याद नही आती थी फिर रात को अपने पर कंट्रोल करता था तभी 30 मई को उसका बर्थडे था उस दिन मुझे पता चला कि उसका BF भी है वो भी 4 साल पुराना अब मेरे लिए बहुत मुश्किल हो रहा है क्या करूँ समझ मे नही आ रहा ये बात उसको पता नही है कि मैं उसके Bf के बारे में जान गया हूँ ।
मेरा मन बस ये सोच रहा है कि आखिर जब उसके Bf था तो मेरे से आखिर बात उतना आगे तक बढ़ाई क्यो । मैं खुद को ठगा और बहुत शर्मिंदा महशुस कर रहा हूँ अब जब उसका मैसेज आता है तो मन करता है कि उसका इनबॉक्स गलियों से भर दूं । उसको भुलाने की पूरी कोशिश कर रहा हूँ लेकिन मार्च अप्रैल में कई गई बातें याद आ जा रही है फिर चाहने लगता हूँ फिर उसके BF के बारे में सोचकर गुस्सा आने लगता है ।
सलाह दीजिये मैं अपने दोस्तों से भी नही बताया डर लगता है कि वो भी मेरा मजाक उड़ाने लगे
Abhishek

उत्तर
मॉडरेटर Gulutips
0

Dear abhi261092,
दोस्त रिलैक्स, जब दिल टूटता हैं तो दर्द होता हैं और आपसे dokha भी हुआ हैं ईसलिए दर्द ज्यादा हो रहा है . अब उस लड़की ne आपको उनके ४ साल के बफ के बारेमें क्यूँ नहीं बताया .. और आपसे रिश्ता क्यु जारी रखा, कहना बहुत ही मुश्किल हैं दोस्त. क्यंकि इसका कारन केवल वही जानती हैं. हो सकता है की उनके BF और उनमें कोई मन- मुटाव हुआ हो और अब वे दुबारा साथ में आ चुके हैं, या और कोई बात भी हो सकती हैं.
वैसे भी caste को लेके आप परेशां थे और आगे बात नहीं बढ़ाना चाहते थे... अब आपको dokha भी हुआ हैं तो अब उनसे दूरी बनाकर रिश्ता तोड़ सकते हैं. ... जो आप कर hi रहे अहिं.. धीरे धीरे रिश्ते को भूलना वाजिब होता हैं.. अपने आप को समय दीजिये.. दोस्त वो होते हैं जो आपको समझ सके, आपकी भावना ओ को समझे, यदि आपके feelings का मजाक बनता है तो वेह सचमुच आपके दोस्त हैं?
इन लिनक्स को पढ़िए, इनमें से आपको मदद मिलेगी. https://lovematters.in/hi/love-and-relationships/breaking-up/why-your-br...
https://lovematters.in/hi/love-and-relationships/breaking-up/getting-ove...