Let's Talk Forum


रिश्ते

जिसके द्वारा दर्ज किया गया Rahul2050

हेल्लो आंटी जी नमस्ते कुछ टाइम से मै अपनी भांजी की तरफ बहुत ज्यादा आकर्षित हो रहा हूं और मैंने नोटिस किया वो बी हो रही है क्या भांजी के साथ सेक्स संबंध बनाना सही है या ग़लत प्लीज बताइए

उत्तर
मॉडरेटर love-matters
0

Rahul2050 puttar,
अच्छा तो तुझे समझ नहीं आ रहा कि क्या करना है तो चल मैं बता देती हूँ - भाई ऐसा करना तो दूर की बात है, यह ख्याल भी दिल से निकाल दे, ठीक है? पुत्तर, सबसे पहले तो यहाँ अपनी बात कहने के लिए मैं तुझे शाबाशी देना चाहती हूँ - आज बड़ा हिम्मत वाला काम किया है तूनेI मैं समझ सकती हूँ कि तू भी असमंजस में है इसीलिए पूछ रहा है - और यह एक अच्छी बात हैI उसके लिए शाबाशी, लेकिन इस सवाल का एक ही जवाब है पुत्तर- सरासर ना! बच्चों के साथ सेक्स पाप है बेटाI

सुन भाई Rahul2050, अगर किसी को यह महसूस होता है कि वे बच्चों के प्रति आकर्षित हैं और उनके आस-पास रहना चाहते हैं और उनसे शारीरिक सम्बन्ध बनाना चाहते हैं - तो उस व्यक्ति को मदद की ज़रुरत हैंI जितना जल्दी हो सके, उतनी जल्दी उसे चिकित्सक के पास जाना चाहिएI

आमतौर पर इस तरह के व्यवहार को पीडोफिलिया कहा जाता है। या तो इसको अपने दिमाग से निकाल दो, नहीं कर सकते तो इसका इलाज करवाओI इसका एक घिनौना पहलु और है - कुछ ऐसे व्यस्क भी हमारे समाज में मौजूद हैं जो छोटे बच्चो को बेहला-फुसला या डरा-धमका कर उनका यौन शोषण करते हैंI इन्हे बाल यौन शोषणकर्ता कहा जाता हैI यदि वे ऐसा अपने परिवार के बच्चों के साथ करते हैं तो उसे व्यभिचार कहा जाता हैI तू यह जानकर हैरान हो जाएगा कि ऐसे लोगो की संख्या कितनी बड़ी हैI इस मुद्दे के बहुत सारे पेचीदा पहलु हैं लेकिन यहां मैं तुझे सरल शब्दों में समझाने की कोशिश कर रही हूँ जिससे तुझे यह बात अच्छे से समझ आ जायेI

कुछ कड़े नियम

रिश्ता चाहे कोई भी हो - उसका आधार सहमति, विश्वास और सुरक्षा पर आधारित होना चाहिए। रिश्ते में आगे बढ़ने से पहले दोनों प्रतिभागियों को एक दूसरे से बात करनी चाहिए और स्पष्ट रूप से यह समझ लेना चाहिए कि वे क्या कर रहे हैंI यदि इनमें से कोई भी तत्व गायब है तो इस रिश्ते की फ़ितरत को हिंसक और अपमानजनक ही कहा जाएगाI और जिस प्रकार के रिश्ते के बारे तुम बात कर रहे हो उसमे एक नाबालिग भी शामिल है तो यह तो एक अपराध भी हैI अधिकतर ऐसे संबंध, शक्ति और रुतबे के दुरुपयोग पर आधारित होते हैं - विशेषकर बाल यौन शोषणकर्ताओं के मामले मेंI

मदद ढूंढो

इसमें कोई शक नहीं है कि बच्चो के साथ दुर्व्यवहार अस्वीकार्य हैI ऐसा करने वालों को 'राक्षस' ही कहा जाएगा और ऐसा घिनौना कृत्य करने वालो के लिए यह नाम उपयुक्त भी हैI लेकिन ऐसा करने का एक नुकसान भी है, वो यह कि समाज ऐसे लोगों को निष्कासित कर देता है जिस वजह से ऐसे लोग अकेलेपन और गोपनीयता से भरा जीवन जीने में बाध्य हो जाते हैं - और वे उन सेवाओं और परामर्श से वंचित रह जाते हैं, जिसकी मदद से शायद वो सही रास्ते पर आ पातेंI

कृपया मदद के लिए । Http://www.troubled-desire.com/ पर जाएं या उनके टोल फ्री हेल्पलाइन - 1800-123-8905 पर कॉल करें

आंटी जी कहती हैं ... अच्छा तो तुझे समझ नहीं आ रहा कि क्या करना है तो चल मैं बता देती हूँ - भाई ऐसा करना तो दूर की बात है, यह ख्याल भी दिल से निकाल दे, ठीक है?

बहादुर है तू..

पुत्तर, सबसे पहले तो यहाँ अपनी बात कहने के लिए मैं तुझे शाबाशी देना चाहती हूँ - आज बड़ा हिम्मत वाला काम किया है तूनेI मैं समझ सकती हूँ कि तू भी असमंजस में है इसीलिए पूछ रहा है - और यह एक अच्छी बात हैI उसके लिए शाबाशी, लेकिन इस सवाल का एक ही जवाब है पुत्तर- सरासर ना! बच्चों के साथ सेक्स पाप है बेटाI

पेचीदा मामला

2 टिप्पणियाँ
बातचीत में शामिल हों
सुन भाई एबीसी, अगर किसी को यह महसूस होता है कि वे बच्चों के प्रति आकर्षित हैं और उनके आस-पास रहना चाहते हैं और उनसे शारीरिक सम्बन्ध बनाना चाहते हैं - तो उस व्यक्ति को मदद की ज़रुरत हैंI जितना जल्दी हो सके, उतनी जल्दी उसे चिकित्सक के पास जाना चाहिएI आमतौर पर इस तरह के व्यवहार को पीडोफिलिया कहा जाता है। या तो इसको अपने दिमाग से निकाल दो, नहीं कर सकते तो इसका इलाज करवाओI इसका एक घिनौना पहलु और है - कुछ ऐसे व्यस्क भी हमारे समाज में मौजूद हैं जो छोटे बच्चो को बेहला-फुसला या डरा-धमका कर उनका यौन शोषण करते हैंI इन्हे बाल यौन शोषणकर्ता कहा जाता हैI यदि वे ऐसा अपने परिवार के बच्चों के साथ करते हैं तो उसे व्यभिचार कहा जाता हैI तू यह जानकर हैरान हो जाएगा कि ऐसे लोगो की संख्या कितनी बड़ी हैI इस मुद्दे के बहुत सारे पेचीदा पहलु हैं लेकिन यहां मैं तुझे सरल शब्दों में समझाने की कोशिश कर रही हूँ जिससे तुझे यह बात अच्छे से समझ आ जायेI

कुछ कड़े नियम

रिश्ता चाहे कोई भी हो - उसका आधार सहमति, विश्वास और सुरक्षा पर आधारित होना चाहिए। रिश्ते में आगे बढ़ने से पहले दोनों प्रतिभागियों को एक दूसरे से बात करनी चाहिए और स्पष्ट रूप से यह समझ लेना चाहिए कि वे क्या कर रहे हैंI यदि इनमें से कोई भी तत्व गायब है तो इस रिश्ते की फ़ितरत को हिंसक और अपमानजनक ही कहा जाएगाI और जिस प्रकार के रिश्ते के बारे तुम बात कर रहे हो उसमे एक नाबालिग भी शामिल है तो यह तो एक अपराध भी हैI अधिकतर ऐसे संबंध, शक्ति और रुतबे के दुरुपयोग पर आधारित होते हैं - विशेषकर बाल यौन शोषणकर्ताओं के मामले मेंI

मदद ढूंढो

इसमें कोई शक नहीं है कि बच्चो के साथ दुर्व्यवहार अस्वीकार्य हैI ऐसा करने वालों को 'राक्षस' ही कहा जाएगा और ऐसा घिनौना कृत्य करने वालो के लिए यह नाम उपयुक्त भी हैI लेकिन ऐसा करने का एक नुकसान भी है, वो यह कि समाज ऐसे लोगों को निष्कासित कर देता है जिस वजह से ऐसे लोग अकेलेपन और गोपनीयता से भरा जीवन जीने में बाध्य हो जाते हैं - और वे उन सेवाओं और परामर्श से वंचित रह जाते हैं, जिसकी मदद से शायद वो सही रास्ते पर आ पातेंI

कृपया मदद के लिए नीचे दिया गया वीडियो देखें। Http://www.troubled-desire.com/ पर जाएं या उनके टोल फ्री हेल्पलाइन - 1800-123-8905 पर कॉल करें

Don't Offend Seek Help

अनुचित - अपमानजनक - घृणित

कुछ भी हो - भांजी ka यौन शोषण करना, कारण चाहे कोई भी हो - भले ही आपकी समझ में tumne usse अनुमति ही क्यों ना ले ली हो - एक घृणित कार्य हैI पीडोफिलिया के शिकार बच्चे कई सालों तक इस मानसिक आघात से पीड़ित रह सकते हैं - और यह भी हो सकता है कि इसकी वजह से वो कभी भी किसी के भी साथ कोई रिश्ता ना बना पाएI यौन हिंसा से आहत बच्चो का शारीरिक शोषण तो होता ही है - उनका लोगों पर से विश्वास भी उठ जाता है - क्यूंकि अधिकतर वो किसी करीबी या जानने वाले द्वारा ही प्रताड़ित किये जाते हैंI क्या तू चाहेगा कि कोई तुझे इस तरह याद रखे- नहीं ना ? तो फ़िर अभी किसी अच्छे मनोचिकित्सक के पास जाओ और अपना इलाज करवाओI

Auntyji