Let's Talk Forum


सेक्स

जिसके द्वारा दर्ज किया गया ratanlalmunda

नमस्ते आंटी जी, मुझे आपसे दोबारा प्रश्न करने की आवश्यकता हुई। आज मैं और मेरी पत्नी ने सेक्स किया तो 9 या 10 मिनट के बाद लिंग घर्षण के दौरान ही मेरी पत्नी की योनि सूख गई जिससे सेक्स करना मुश्किल हो गया। ऐसा एक दिन पहले भी हो चुका है। मेरी पत्नी ही सेक्स के लिए पहल करती है और बिना फोरप्ले के ही उसकी योनि गीली हो जाती है। लेकिन बाद में जब उसकी योनि सूख जाती है तो दोबारा गीलापन लाने में बहुत मुश्किल हो गया। मेरा वीर्य भी बाहर नहीं आ पाया और हम सेक्स करना छोड़ सो गये। हमारी समस्या का समाधान करने कृपा करें। धन्यवाद!

Ratan
उत्तर
मॉडरेटर love-matters
1

ratanlalmunda puttar,
सेक्स के समय ठीक से उत्तेजित करें। सेक्स के पहले देर तक फोरप्ले करें, उन्हें पहले अच्छी तरह उत्तेजित तो होने दें फिर देखिए योनि में अपने आप गीलापन आ जाएगा। तनाव, चिंता और भावनात्मक रूप से अधिक कमजोर होने के कारण भी योनि में सूखेपन की समस्या हो जाती है। तनाव के कारण शरीर में हार्मोनल परिवर्तन होते हैं जिसके कारण योनि में खून का प्रवाह पर्याप्त नहीं हो पाता है और इससे योनि में सूखापन और ज्यादा बढ़ जाता है। अक्सर महिलायें इस समस्या के कारण मनोवैज्ञानिक रूप से तनाव में आ जाती हैं और फ़िर इसी तनाव की वज़ह से यह समस्या और बढ़ने लगती है। इस तरह यह क्रम चलता रहता है। रोजाना इस्तेमाल किए जाने वाले हाइजीन प्रोडक्ट जैसे कि साबुन, वैजाइनल डाउच और डिटर्जेंट (जब कपड़ों को ठीक से ना धुला गया हो) में कई तरह के हानिकारक केमिकल होते हैं जो आपकी त्वचा को प्रभावित करते हैं। कई लोगों को इन केमिकल से एलर्जी होती है, विशेषरूप से शरीर के संवेदनशील हिस्सों को ये केमिकल अधिक प्रभावित करते हैं। इसके अलावा इन केमिकल के कारण यीस्ट संक्रमण और बैक्टीरियल संक्रमण जैसी अन्य समस्याएं भी हो सकती हैं जिसके कारण योनि सूख जाती है। कुछ दिनों के लिए साबुन या इन अन्य प्रोडक्ट का इस्तेमाल करना बंद कर दें जिससे यह पता चल सके कि योनि में सूखेपन का कारण कहीं यही चीजें तो नहीं हैं ।

कई गर्भ निरोधक एवं एंटी हिस्टामिन दवाइयों (जुकाम की दवाइयों) के सेवन से महिलाओं के शरीर में एस्ट्रोजन हार्मोन का उत्पादन कम हो जाता है। गर्भ निरोधक दवाओं में प्रोजेस्टेरोन नामक एक अन्य हार्मोन होता है जो सिर्फ़ एस्ट्रोजन के स्तर को ही कम नहीं करता बल्कि सेक्स की इच्छा को भी घटा देता है।
मेनोपॉज के दौरान महिलाओं के शरीर में एस्ट्रोजन नामक हार्मोन का स्तर अचानक गिर जाता है जिसके कारण योनि में नमी कम हो जाती है और योनि अधिक पतली और कम लचीली हो जाती है। हालाँकि, चिकनाई पैदा करने वाले पदार्थ का इस्तेमाल आवश्यक नहीं है, लेकिन इसका इस्तेमाल सेक्स को बेहतर बना सकता हैI
इतना ही नहीं, इसका प्रयोग उन महिलाओं कि मदद करता है जिन्हे योनि कि शुष्कता कि तकलीफ होती हैI चिकनाई देने वाले पदार्थ: मुख्य तथ्य - https://lovematters.in/hi/making-love/lubricant-top-five-facts

Auntyji
0

"सेक्स के समय ठीक से उत्तेजित करें" का क्या मतलब है? क्या लिंग का घर्षण योनि में ठीक से नहीं हो रहा है? इसका पता मुझे कैसे चलेगा आंटी जी?

Ratan